{Best 2020} Thandi Hawa Shayari – Shayari On Thandi Hawayein

Thandi Hawayein Shayari In Hindi: हमने देखा की ठण्ड के समय में लोग Thandi Hawa Shayari इंटरनेट पर बहुत ज्यादा सर्च करते है, तो हम आपके लिए इस पोस्ट में ठंडी हवा शायरी हिंदी में लेकर आये है, इस पोस्ट में हमने Romantic और Funny दोनों तरह की Thandi Hawa Shayari In Hindi में आपके साथ साझा की है |

Shayari On Thandi Hawayein, ठंडी हवाएं शायरी 2020, Thandi Hawayein Shayari and Status In Hindi For Whatsapp, Facebook 2020

 

Thandi Hawa Shayari

  • Romantic Shayari On Thandi Hawayein

जब भी ठंडी हवाएं चलती हैं,
कसम से तेरी बहुत याद आती हैं,
दिल कहता है मेरा बार-बार
हमसे मिलने कब आओगें मेरे यार…!

Jab Bhi Thandi Hawayein Chalti Hain,
Kasam Se Teri Bahut Yaad Aati Hain,
Dil Kahta Hai Mera Baar-baar
Hamse Milne Kab Aaoge Mere Yaar…!

*****

पहले मैं अकेला ही उसे पुकारता था
अब ये ठंडी हवाएं भी उसे पुकारती है |

Pehle Main Akela Hi Use Pukarta Tha
Ab Ye Thandi Hawayein Bhi Use Pukarti Hai !

Thandi-Hawa-Shayari (1)

*****

अपना समझो या बेगाना,
पर हमारा रिश्ता हैं पुराना,
इसलिए हमारा फ़र्ज हैं आपको ये बताना,
ठंडी हवाएं अब चालू हो गयी है
इसलिए कृपया रोज रोज मत नहाना !

Apna Samjho Yaa Begana,
Par Hamara Rishta Hain Purana,
Isliye Hamara Farz Hain Aapko Ye Batana,
Thandi Hawayein Ab Chaalu Ho Gayi Hai
Isliye Kriapya Roj Roj Mat Nahana !

*****

सर्द हवा का मज़ा कितना अलग सा हैं,
तन्हा रात में इंतजार कितना अलग सा हैं,
वो तो हमसे इतना दूर रहते है…
पर उनकी यादों का एहसास कितना अलग सा हैं !

Sard Hawa Ka Maja Kitna Alag Sa Hain,
Tanha Raat Me Intezar Kitna Alag Sa Hain,
Wo To Hamse Itna Dur Rahte Hai…
Par Unki Yaadon Ka Ehsaas Kitna Alag Sa Hain !

*****

दिल की धड़कन रूक सी गई,
साँसे मेरी थम सी गई,
पूछा हमने जब दिल के डॉक्टर से तो पता चला कि
ठंडी हवा के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई !

Dil Ki Dhadkan Ruk Si Gayi,
Saanse Meri Tham Si Gayi,
Poochha Humne Jab Dil Ke Daktar Se To Pata Chala Ki
Thandi Hawa Ke Kaaran Aapki Yaadein Dil Me Jam Si Gayi !

*****

सर्द रातों को सताती है यादें तेरी,
बुझती नहीं सीने में लगाई आग तेरी,
जब भी चलती हैं हवाऐं..
दिल को छू जाती है फिर से यादें तेरी !

Sard Raaton Ko Sataati Hai Yaaden Teri,
Bujhati Nahin Sine Men Lagai Aag Teri,
Jab Bhi Chalti Hain Hawayein..
Dil Ko Chhu Jaati Hai Phir Se Yaaden Teri !

*****

पहन लो स्वेटर आपसे यही हैं गुज़ारिश,
बाहर चल रही है ठंडी हवा की बारिश !

Pehan Lo Sweater Aapse Yahi Hain Guzarish,
Baahar Chal Rahi Hai Thandi Hawa Ki Baarish !

*****

आ भी जा अभी सर्दी का मौसम नही गुजरा,
पहाड़ो में ठंडी हवाएं अभी भी बह रही है
सब कुछ है मगर तू पास नहीं,
सिर्फ एक तेरी ही कमी बाकी है…!

Aa Bhi Jaa Abhi Sardi Ka Mausam Nahi Guzra,
Pahaado Me Thandi Hawayein Abhi Bhi Bah Rahi Hai
Sab Kuchh Hai Magar Tu Paas Nahi,
Sirf Ek Teri Hi Kami Baaki Hai…!

*****

Also Read: Romantic Winter Shayari Hindi

 

Thandi Hawayein Shayari In Hindi

  • Funny Shayari On Thandi Hawayein

ठंडी हवा में दोस्ती नहीं निभा पाएंगे,
जरुरत पड़े तो सब कुछ ले लो
मगर रजाई से बाहर नहीं आ पाएंगे !

Thandi Hawa Me Dosti Nahi Nibha Paayenge,
Jarurat Pdhe To Sab Kuchh Le Lo
Magar Rajaai Se Bahaar Nahin Aa Paayenge !

Thandi-Hawa-Shayari (2)

*****

ठंडी-ठंडी हवा चली,
आकाश हुआ सुहाना,
जोकर भी व्हाट्सऐप पढ़ने लगे,
शिक्षित हुआ ज़माना !

Thandi-thandi Hawa Chali,
Aakaash Hua Suhana,
Jokar Bhi Whatsapp Padhne Lage,
Shikshit Hua Jamana !

*****

ठंडी हवा और बेइज्जती
जितनी महसूस करोगे उतनी ज्यादा लगेगी…
So Be Careful & Be Besharam…!

Thandi Hawa Aur Beejjti
Jitni Mahsus Karoge Utni Jyada Lagegi…
So Be Careful & Be Besharam…!

*****

इससे ज्यादा दुश्मनी की हद क्या होगी,
सबेरे सबेरे गरम पानी बोलकर
पत्नी ने मुझे ठन्डे पानी से निहला दिया !

Isse Jyada Dushmani Ki Had Kya Hogi,
Sabere Sabere Garam Paani Bolkar
Patni Ne Mujhe Thande Paani Se Nehla Diya !

*****

हवा का झोंका आया, साथ तेरी खुशबू लेकर आया,
मैं समझ गया, तू आज फिर नहीं नहाया !

Hawa Ka Jhonka Aayaa, Sath Teri Khushbu Lekar Aaya,
Main Samajh Gaya, Tu Aaj Phir Nahi Nahaya !

*****

ठण्ड के समय में सुबह बड़ी इम्तिहान की घड़ी होती हैं,
रोज सुबह-सुबह ठंड में नहाना बहुत बड़ी बात होती हैं !

Thand Ke Samay Me Subah Badi Imtihaan Ki Ghadi Hoti Hain,
Roj Subah-subah Thand Me Nahana, Bahut Badi Baat Hoti Hain !

*****

ना मुस्कुराने को जी चाहता हैं,
ना ही नहाने को जी चाहता हैं,
अब सर्दी की ठंड बर्दास्त नही होती,
सब काम छोडकर रजाई ओढ़कर सो जाने को जी चाहता हैं !

Naa Muskurane Ko Ji Chahta Hain,
Naa Hi Nahane Ko Ji Chahta Hain,
Ab Sardi Ki Thand Bardaast Nahi Hoti,
Sab Kam Chhodkar Rajaai Odhkar So Jaane Ko Ji Chahta Hain !

*****

Last Words: यह पोस्ट Thandi Hawa Shayari पर लिखा गया है, अगर आप Winter Shayari In Hindi में पढ़ना चाहते है तो निचे दी गयी लिंक पर क्लिक करे !

Also Read: Romantic Winter Shayari Hindi

Also Read: Funny Sardi Shayari, Status Hindi

Leave a Reply