Home Shayari {Best 2024} Mafia Shayari In Hindi – माफिया शायरी इन हिंदी

{Best 2024} Mafia Shayari In Hindi – माफिया शायरी इन हिंदी

0
{Best 2024} Mafia Shayari In Hindi – माफिया शायरी इन हिंदी

Mafia Shayari In Hindi English – यदि आप माफिया शायरी खोज रहे हो तो इस पोस्ट में खतरनाक ऐटिटूड से भरी माफिया शायरी इन हिंदी में लिखी गई है। आप इस शायरी को पढ़ेंगे तो अवश्य ही यह शायरी आपको पसंद आएगी।

Mafia Shayari In Hindi

पीठ पीछे‌ कुत्ते की तरह भौंकने की आदत नही है,
हम तो शेर की तरह सामने से दहाड़ना जानते है।

Pith pichhe kutte ki tarah bhaukane ki aadat nahi hai,
Hum to sher ki tarah samne se dahadna jante hai.

mafia-shayari-in-hindi (1)

जो शेर की तरह दहाड़ते है,
वो हमें नही जानते है।

Jo sher ki tarah dahadte hai,
Wo hume nahi jante hai.

कान खोलकर सुन ले छोरे हमसे ना ले पंगा,
वरना हो जायेगा यहां सरेआम दंगा।

Kan kholkar sun le chhore humse na le panga,
Warna ho jayega yahan sareaam danga.

माफिया के इस खेल में पक्का खिलाड़ी हूं,
दुश्मनों के चेहरे पहले ही पढ़ लेता हूं।

Mafia ke is khel me pakka khiladi hoon,
Dushmano ke chehre pahle hi padh leta hoon.

सबको डर लगता है माफिया का हूं बादशाह,
देखकर हमको कोई नही करता आह।

Sabko dar lagta hai mafia ka hoon badshah,
Dekhkar humko koi nahi karta aah.

गेम का बदल देता हूं खास अंदाज,
नही टिक सकता है कोई दगाबाज।

Game ka badal deta hoon khas andaz,
Nahi tik sakta hai koi dagabaz.

जहां देखो वहां माफियाओं का चलता राज,
दरिया दिल तो नही बस रिवाल्वर होता है उनके पास।

Jahan dekho wahan mafiao ka chalta raj,
Dariya dil to nahi bas riwalwar hota hai unke pas.

लोगों के मन में बसते है सपने,
माफियाओं के दिल में बसते है बदलें।

Logon ke man me basate hai sapne,
Mafiao ke dil me basate hai badle.

दुनिया में चलती है माफियाओं की बात है,
सत्ता का खेल उनका होता राज है।

Duniya me chalati hai mafiao ki bat hai,
Satta ka khel unka hota raj hai.

किसी की औकात नही हमें गिराने की,
फिर बेवजह कोशिश करता है हमें झुकाने की।

Kisi ki aukat nahi hume girane ki,
Phir bewajah koshish karta hai hume jhukane ki.

कुछ सही तो कुछ खराब कहते है,
हमें माफियाओं का नवाब कहते है।

Kuchh sahi to kuchh kharab kahte hai,
Hume mafiao ka nawab kahte hai.

माफिया के भी सपने होते है,
सोचते है लोगों से कैसे लिए बदले होते है।

Mafiao ke bhi sapne hote hai,
Sochte hai logon se kaise liye badle hote hai.

जिंदगी के खेल में माफिया परिंदा है,
अगर इनसे दुश्मनी ली तो कोई नही जिंदा है।

Zindagi ke khel me mafia parinda hai,
Agar inse dushmani Li to koi nahi jinda hai.

अच्छी से अच्छी हस्ती मिट जाती है माफिया को झुकाने से,
सारी जिंदगी खत्म हो जाएगी माफियाओं को गिराने में।

Achchhi se achchhi hasti mit jati hai mafia ko jukane se,
Sari zindagi khatm ho jayengi mafiao ko girane me.

सरीफो की बस्ती में हर किसी का नाम होगा,
माफियागिरी दिखाई तो हर कोई बदनाम होगा।

Sarifo ki basti me har kisi ka nam hoga,
Mafiagiri dikhayi to har koi badnam hoga.

Also Read: Gangster Shayari In Hindi

माफिया शायरी इन हिंदी

मैं माफिया का किंग हूँ, इस खेल का पक्का खिलाडी हूँ,
तुम्हारी औकात कुछ भी नहीं, तुम मेरे सामने अनाड़ी हो।

Main mafiya ka king hu, is khel ka pakka khiladi hu,
Tumhari aukat kuch bhi nahi, tum mere samne anadi ho.

mafia-shayari-in-hindi (2)

भीड़ के साथ तो हर कोई चलता है,
अकेले चलने की किसी की औकात नही।

Bheed ke sath to har koi chalta hai,
Akele chalne ki kisi ki aukat nahi.

हम जैसे लोगों का नही होता डर से वास्ता,
अकेले ही निकाल लेते है कही न कही रास्ता।

Hum jaise logon ka nahi hota dar se wasta,
Akele hi nikal lete hai kahi na kahi rasta.

हमें क्या रोक पाएगा कोई मंजर,
हम खुद ही है एक खंजर।

Hume kya rok payega koi manjar
Hum khud hi hai ek khanjar.

अगर दुश्मन आग है तो हम है ज्वाला,
हमारे सामने नही टिक पाएगा कोई साला।

Agar dushman aag hai to hum hai jwala,
Hamare samne nahi tik payega koi sala.

हम तो वो तालाब है,
जिसे देखकर आ जाता सैलाब है।

Hum to wo talab hai,
Jise dekhkar aa jata sailab hai.

दुश्मनों की खैर नही,
हमसे टकराएं कोई गैर नही।

Dushmano ki khair nahi,
Humse takraye koi gair nahi.

माफियाओं की यही निशानी है,
जिसे देख लोगों को हो जाती परेशानी है।

Mafiao ki yahi nishani hai,
Jise dekh logon ko ho jati pareshani hai.

कुछ कमियां तो कुछ अच्छाईयां है,
अच्छे के साथ अच्छा बुरे के साथ बुरा,
यही माफियाओं की सच्चाइयां है।

Kuchh kamiyan to kuchh achchhaiyan hai,
Achchhe ke sath achchha bure ke sath bura,
Yahi mafiao ki sachchhaiyan hai.

Final Words on Mafia Shayari Hindi English – हमें उम्मीद है कि इस लेख में माफिया शायरी इन हिंदी पर जो शायरी लिखी गई, ये आपको पसंद आयी होगी। यदि आपको ये शायरी अच्छी लगे तो आप दुसरो के साथ फेसबुक या व्हाट्सप्प आदि पर शेयर कर सकते है।

Also Read: किसी को जलाने की एटीट्यूड शायरी

Also Read: दुश्मन को जलाने वाली शायरी हिंदी में